बंद करे

विधानसभा उपचुनाव के लिए कर्मचारियो का डेटाबेस

जिले के सभी कार्यालयों द्वारा विधान सभा एवं लोकसभा निर्वाचन में सभी अधिकारियो / कर्मचारियों का डाटा ऑनलाइन फीड किया गया था | उसी डाटा को आवश्यक सुधार के पश्चात आगामी विधानसभा उपचुनाव के लिए उपयोग किया जाना है |

कर्मचारियों के EPIC नंबर, विधानसभा क्षेत्र का नाम, मतदान केंद्र/पार्ट का नाम व नंबर, मतदाता सूची में सरल क्रमांक, मोबाईल नंबर, निवास ऑफिस का पूरा पता इत्यादि की जानकारी अनिवार्य रूप से दर्ज की जावे |

ट्रेनिंग विडियो : https://youtu.be/bxIRHEpIAgQ
पोर्टल / वेबसाइट का पता : http://164.100.96.31/EPDS2019
प्रपत्र-1 (प्रत्येक कार्यालय द्वारा भरा जावे) : प्रपत्र-१ (101 kb)
यूनिकोड हिन्दी के लिए : माइक्रोसॉफ्ट इंडिक लैंग्वेज इनपुट टूल

जानकारी पूर्ण होने के पश्चात कार्यालय प्रमुख हस्ताक्षरित प्रमाणपत्र एवं प्रविष्ट जानकारी का प्रिंट जिला निर्वाचन अधिकारी को प्रस्तुत करेंगें | किसी भी स्थिति में अपूर्ण जानकारी के साथ प्रमाणपत्र प्रस्तुत नही किया जाना चाहिए |

नीचे दिए गये निर्देशों के अनुसार डाटा में आवश्यक सुधार करने का कष्ट करें |

कार्यालय के सभी अधिकारियो / कर्मचारियों की जानकारी कार्यालय प्रमुख सहित प्रविष्ट/ सुधार करें |

  1. जानकारी पूर्ण होने के पश्चात कार्यालय प्रमुख हस्ताक्षरित प्रमाणपत्र एवं प्रविष्ट जानकारी का प्रिंट जिला निर्वाचन अधिकारी को प्रस्तुत करेंगें | किसी भी स्थिति में अपूर्ण जानकारी के साथ प्रमाणपत्र प्रस्तुत नही किया जाना चाहिए |
  2. मेडीकल अनफिट , दिव्यांग , स्थानांतरण , निलंबन इत्यादि की सही जानकारी प्रमाण सहित संलग्न करें |
  3. जन्मतिथि / आयु की सही जानकारी प्रविष्ट करे |
  4. सभी विवरण हिन्दी में ही भरना है |
  5. निवास एवं कार्यालय विधान सभा का नाम सही प्रविष्ट करना |
  6. मोबाईल नम्बर , खाता संख्या , आईएफएससी कोड की सही जानकारी |
  7. स्थाई / अस्थाई / संविदा कर्मचारी का सही चयन करे |
  8. पदस्थापना स्थल (Posting Place) सही एवं स्पष्ट व पूर्ण लिखें |
  9. पदनाम का सही चयन करे यदि कोई पद उपलब्ध नही है तो नोडल के लागिन द्वारा जोड़ा जा सकता है |
  10. लिंग (पुरूष / महिला ) का चयन ध्यान से करे | विधानसभा निर्वाचन में लिंग चयन से सबंधित बहुत त्रुटियाँ पाई गई |

ऊपर दिए सभी बिन्दुओ को ध्यान रखते हुए कार्यालय की जानकारी में सुधार करें एवं प्रमाणपत्र सहित प्रिंट प्रस्तुत करें | अपूर्ण जानकारी के साथ प्रमाणपत्र देने पर विभागप्रमुख पर कार्यवाही की जावेगी |